Friday, July 19, 2024
Homeनिरसानशीले पदार्थों के सेवन से इंसान अपनी विवेक खो देता है जीवित...

नशीले पदार्थों के सेवन से इंसान अपनी विवेक खो देता है जीवित होते हुए भी मरणासन्न स्थिति में पड़ा रहता है : डॉ सुखनारायण

धनबाद : निरसा एगयरकुण्ड प्रखण्ड अंतगत शिवलीबाड़ी दक्षिण पंचायत के कुमारधुबी हिंदी मघ्य विद्यालय के प्रांगण में बुधवार को प्रता: छात्रों को प्रज्ञा योग के साथ बच्चो को नशे से दूर रहने के लिय प्रेरणा दी गई, दो दिवसीय दौरे पर आए अखिल भारतीय हिंदी महासभा सह नव संस्कार सृजन परिवार के राष्ट्रीय अध्यात्म सलाहकार डॉ सुखनारायण भैया जी ने बच्चों के बीच बताया कहा की नशीले पदार्थो के सेवन से इंसान अपनी विवेक खो देता है जीवित होते हुए भी मरणासन्न स्थिति में पड़ा रहता है। सुखी वी स्वस्थ्य जीवन जीना है तो नशे से दूर हो योग को जीवन का मुख्य अंग समझते हुए प्रतिदिन योग करना चाहिए ताली बजाओ रोग भगाओ, करो योग रहो निरोग के नारा बच्चो ने दे नशा न करने की संकल्प लिया कार्यक्रम को सफल बनाने में शिक्षक नंदकिशोर प्रसाद का सराहनीय योगदान रहा।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments