Friday, April 19, 2024
Homeधनबादधनबाद कांग्रेस जिलाध्यक्ष संतोष सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी से आम जनता के...

धनबाद कांग्रेस जिलाध्यक्ष संतोष सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी से आम जनता के मुद्दो पर किया बड़ा सवाल

धनबाद/झरखंड: धनबाद जिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष संतोष सिंह , कार्यकारी अध्यक्ष राशिद रजा अंसारी ने धनबाद कांग्रेस कार्यालय मे आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के धनबाद आगमन को लेकर आम जनता से जुड़े मुद्दो पर बड़ा सवाल किया हैं। जिलाध्यक्ष संतोष सिंह ने कहा कि 2014 में केंद्र और झारखंड राज्य दोनों जगह डबल इंजन की सरकार थी। उस समय भाजपा की रघुवर सरकार ने जनता से यह वादा किया था कि धनबाद में गया पुल के पास एक अंडरपास और एक अतिरिक्त फ्लाईओवर का र्निमाण होगा। उसके बाद ना तो रेलवे ने उसपर कोई कदम उठाया और ना ही रघुवर सरकार कैबिनेट से पास हुई योजना धरातल पर उतर पाई। सब को पता हैं कि धनबाद रेल मंडल केंद्र सरकार को सर्वाधिक आर्थिक राजस्व देता है। इसके बाद भी विकास की योजनाएं आगे क्यों नहीं बढ़ी? धनबाद स्टेशन का विस्तारिकरण भी आज आखिर लंबित क्यों पड़ा हैं? इसके बावजूद भी आपने धनबाद के विकास विरोधी निकम्मे सांसद पशुपतिनाथ सिंह से कोई सवाल क्यों नहीं किया?जिलाध्यक्ष ने प्रधानमंत्री से सवाल किया हैं कि डीसी रेल लाइन पर फिर से एक बार बंदी की तलवार लटक रही हैं जबकी नया रुट बनाने को लेकर चार साल पहले ही घोषणा हो चुकी थी, जिसपर कार्य आगे क्यों नहीं बढ़ा? कहा कि झरिया विस्थापन जेआरडीए योजना की फाइले धुल फांक रही हैं! लोगों को ना तो नियोजन मिला और ना ही पुर्नवास की योजना सफल हो पाई! पुर्नवास के करोड़ों का पैकेज कहां गया जिसका कोई अता पता नहीं? आखिर झरिया की जनता के साथ छल क्यों किया गया?कहा कि रैयतों की जमीन हड़पकर बीसीसीएल आउसोर्सिंग के जरिये कोयला निकाल रही हैं और ओबी डंप कर पत्थरों का पहाड़ खड़ा कर दिया है। ना ही रैयतों को उनका हक मिल रहा और ना ही मुआवजा! क्या केंद्रीय कोयला मंत्रालय के पास इन पत्थरों के पहाड़ों को समतल कर रैयतों को लौटाने की कोई योजना हैं? जिलाध्यक्ष संतोष सिंह ने सवाल किया कि देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू द्वारा स्थापित सिंदरी एफसीआई को 2002 में भाजपा की बाजपेयी सरकार द्वारा षड्यंत्र कर उजाड़ दिया और उनके सपने को चकनाचूर करने का घृणित कार्य किया गया। फिर उसी एफसीआई की जमीन पर हर्ल के नाम से मोदी सरकार द्वारा दुसरी कंपनी को ठेका देकर अब अपने नाम का श्रेय लेने के लिए उद्घाटन का नाटक किया जा रहा हैं आखिर क्यों?कहा कि अगर वाकई प्रधानमंत्री मोदी की मंशा स्पष्ट हैं तो 2018 में हर्ल कंपनी की शुरुआत के साथ धनबाद में एयरपोर्ट बनाने की भी शुरुआत हो जानी चाहिए थी, पर यह नहीं हुआ! आखिर धनबाद की जनता के साथ यह सौतेला ब्यवहार क्यों किया गया।
मोदी जी को यह भी बताना चाहिए की सांसद P.N.Singh जी के नकारेपन के कारण धनबाद में प्रस्तावित AIIMS नहीं बनकर किसी दूसरे जगह कैसे चला गया?उक्त अवसर पर धनबाद जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष राजेश्वर सिंह यादव, मधुसूदन सिंह चौधरी, उपस्थित थें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments