Thursday, July 18, 2024
Homeगिरिडीहफर्जी बैंक अधिकारी बन और गर्भवती महिलाओं को मातृत्व लाभ राशि दिलाने...

फर्जी बैंक अधिकारी बन और गर्भवती महिलाओं को मातृत्व लाभ राशि दिलाने के नाम पर लोगों को चुना लगाने वाला चार शातिर साइबर अपराधी चढ़ा पुलिस के हत्थे

गिरिडीह: फर्जी बैंक अधिकारी बनकर ओर गर्भवती महिलाओं को मातृत्व लाभ राशि दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले चार शातिर साइबर अपराधियों को गिरिडीह पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है. जिन साइबर अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है उनमें बेंगाबाद थाना क्षेत्र के रघाईडीह का सनफराज अंसारी, हीरोडीह थाना क्षेत्र के करमाटांड़ का कमरूद्धीन अंसारी, ताराटांड़ थाना क्षेत्र के जबरदाहा का रंजीत कुमार मंडल और प्रमेश्वर कुमार मंडल शामिल है. इन चारों साइबर अपराधियों के पास से पुलिस ने 6 मोबाइल फोन, 8 सिमकार्ड, 1 पासबुक, 2 एटीएम कार्ड, एक मारुति सुजुकी स्विफ्ट डिजायर कार, 1 पैनकार्ड और 1 आधार कार्ड बरामद किया है. उक्त आशय की जानकारी गिरिडीह के एसपी दीपक कुमार शर्मा ने प्रेसवार्ता कर दी. बताया कि प्रतिविम्ब पोर्टल के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई की गिरिडीह के बेंगाबाद थाना क्षेत्र में कुछ साइबर अपराधी आम लोगों से ठगी कर रहे है. सूचना के आधार पर साइबर डीएसपी आबिद खान के नेतृत्व में टीम गठित किया गया. टीम में पुनि रोहित कुमार महतो, पुअनि पुनित कुमार गौतम, सअनि गुंजन कुमार, संजय मुखियार, घनश्याम बिरुआ, मनोज कुमार को शामिल किया गया और बेंगाबाद थाना क्षेत्र के अलग – अलग इलाकों में छापामारी कर इन चारों शातिर साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया. बताया गया कि इन साइबर अपराधियों से जब पूछताछ की गई तो बताया कि ये सभी लोग अपने आप को फर्जी बैंक अधिकारी बन कर ओर गर्भवती महिलाओं को मातृत्व लाभ राशि दिलाने के नाम पर लोगों को ठगने की काम करते थे, साथ ही ये लोग फर्जी सिमकार्ड और फर्जी बैंक खाता भी उपलब्ध कराने का काम करते थे. एसपी श्री शर्मा ने बताया कि इस सम्बंध साइबर थाना में कांड सं-26/2024 दिनांक-27.06.2024 दर्ज कर सभी को जेल भेज दिया गया है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार साइबर अपराधियों में एक पुराना ओर शातिर साइबर अपराधी है जिसका नाम प्रमेश्वर कुमार मंडल है. बताया कि परमेश्वर मंडल के खिलाफ ताराटाड थाना कांड सं. 24/2023, दिनांक-13.08.2023, धारा-411/413/ 419/420/467/468/471/120बी/34 भा०द०वि० एवं 66बी/66सी/66डी आईटी एक्ट 2000 में प्राथमिकी अभियुक्त है, इसके अलावे दिल्ली के स्पेशल सेल थाना कांड सं-221/2022 दर्ज है, दिल्ली के स्पेशल सेल थाना कांड सं-254/2022 दर्ज है.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments