Monday, July 15, 2024
HomeमहुदाMAHUDA | राजनीति में महिलाओं की सक्रियता बढ़ाने व भागीदारी सुनिश्चित कराने...

MAHUDA | राजनीति में महिलाओं की सक्रियता बढ़ाने व भागीदारी सुनिश्चित कराने को लेकर बाघमारा के मुरलीडीह गांव में निकाली गई जागरूकता रैली

हमसब नारी एक साथ में, सत्ता की चाबी हाथ में: नारी शक्ति

MAHUDA | धनबाद जिले के बाघमारा प्रखंड अंतर्गत मुरलीडीह गांव में महिलाओं ने राजनीति में महिलाओं की सक्रियता बढ़ाने व भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए विगत चार महीनों से गांव में बैठक, गोष्ठी, पंचायत सचिवालय का भ्रमण के पश्चात रविवार को जागरूकता रैली का आयोजन किया। उक्त रैली में महिलाओं ने राजनीति में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने को लेकर नारी शक्ति जिंदाबाद, राजनीति में महिलाओं को अधिकार देना होगा, हम-सब नारी एक साथ में, सत्ता की चाबी हाथ में जैसे नारे लगा कर सत्ताधीशों व जन-जन तक अपना पैगाम पहुंचाया। उक्त रैली गांव के ऊपर टोला से शुभारंभ कर विभिन्न टोलों में गई। रैली का नेतृत्व नारीवादी सोच एवं महिलाओं के हक व अधिकारों पर काम करने वाली सामाजिक कार्यकर्ता हलिमा एजाज ने किया. महिलाओं की राजनीतिक परिस्थिति पर उपस्थित महिलाओं ने चिंतन-मनन किया। उक्त बैठक में खेल के माध्यम से किशोरियों एवं महिलाओं को राजनैतिक दांव-पेंच को समझाया गया। तत्पश्चात राजनीति में महिलाओं की भागीदारी कम क्यों और कारण पर खुलकर चर्चा किया गया। समूह चर्चा के दौरान महिलाओं और किशोरियों ने पितृसत्तात्मक समाज, रूढ़िवादी सोच, अशिक्षा, पतिव्रता, लिंग भेद-भाव आदि बातों को राजनीति में महिलाओं की भागीदारी कम होने का कारण बताया। उक्त बैठक का संचालन नारीवादी नेतृत्वकर्ता हलिमा एजाज कर रही थी। रैली को संबोधित करते हुए हलीमा एजाज ने कहा कि इस अभियान के दौरान कई जनजागरूकता कार्यक्रम किए गए ,जिससे एक ओर महिलाओं में राजनीतिक चेतना का विकास के साथ साथ रूचि एवं सक्रियता बढ़ेगी, नारीवादी नेतृत्व को बल मिलेगा, ग्राम सभा सशक्त होगी वहीं दूसरी ओर रूढ़िवादी सोच, पितृ सत्ता, और लिंग भेद-भाव पर चोट होगा। आमतौर पर यह देखा जाता है कि महिलाएं राजनीति में बहुसंख्यक में जीतकर आती है पर उन्हें उनके अधिकार से आज भी वंचित रखा जाता है। हम महिलाओं की मांग है कि जीती हुई महिलाओं को उन्हें उनका अधिकार मिले। तभी राजनैतिक बदलाव सुनिश्चित होगा और सुंदर समाज, सशक्त समाज का निर्माण होगा। रैली मुख्य रूप में आरती देवी, सुनीता देवी सुम्बुल महजबीं, सिंपिका कुमारी, प्रेम प्यारी महतो, तबस्सुम परवीन, इशरत परवीन सरिता कुमारी, अंजूम बीवी, हलीमा बीवी, मैमून बीवी, हेना अंजूम, खुशबू कुमारी, किरण महतो, जानकी देवी, पूजा देवी, सुशीला देवी, नसीमा खातून, जमीला खातून, मरजीना बीवी अंजली देवी, रिंकी देवी, बसंती देवी, बसंती देवी,रेणु देवी,सोनी, श्रुति कुमारी, मैमून बीवी,जुबेदा खातून, रूखसाना खातून, जहांआरा खातून, नसरून निशा, पूर्णिमा देवी आदि के साथ साथ दर्जनों महिलाओं एवं किशोरियों ने भाग लिया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments