February 25, 2024

राज्य में नया संसद भवन का निर्माण व उद्‌घाटन कर सस्ती लोकप्रियता हासिल कर रही है। मगर भारतीय संवि धान देश में अक्षरत लागू कैसे हो इस पर भाजपा गंभीर नहीं हैं। उक्त बातें रविवार को बहुजन समाज पार्टी ने संविधान दिवस पर संविधान बचाओ, देश बचाओ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि सह पूर्व मंत्री गया चरण दिनकर ने कहा।

धनबाद: राज्य में नया संसद भवन का निर्माण व उद्‌घाटन कर सस्ती लोकप्रियता हासिल कर रही है। मगर भारतीय संवि धान देश में अक्षरत लागू कैसे हो इस पर भाजपा गंभीर नहीं हैं। उक्त बातें रविवार को बहुजन समाज पार्टी ने संविधान दिवस पर संविधान बचाओ, देश बचाओ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि सह पूर्व मंत्री गया चरण दिनकर ने कहा। उन्होंने कहा कि जिस संविधान से पूरा देश चलता है उस संविधान पर गंभीर होने के बजाय इसे खत्म करने पर भाजपा सरकार तुली हुई है। उन्होंने कहा कि जो संविधान विरोधी होते है वो राष्ट विरोधी कहलाता है। कार्यक्रम से पूर्व बसपा पार्टी ने गांधी सेवा सदन से पार्टी का झंडा बैनर तले विशाल रैली निकाला गया। जो डीआरएम चौक पहुंचकर बाबा साहेब डा. भीम राव आंबेडकर के प्रतिमा में मल्यार्पण किया गया तथा संविधान विरोधी विचारों के खिलाफ व संविधान लोकतंत्र के पक्ष में जमकर नारेबाजी किया। इसके बाद गांधी सेवा सदन के सभागार में संकल्प-सभा का आयोजन किया गया। शुरुआत में डा. आंबेडकर कर फोटो पर माल्यार्पण कर भारतीय संविधान का प्रस्तावना का पाठ सामूहिक रूप किया गया। कार्यक्रम बसपा जिला अध्यक्ष अभय कुमार की अध्यक्षता व जोन प्रभारी, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुबल दास के संचालन में हुई। दिनकर ने कहा कि भाजपा-कांग्रेस दोनों मिलकर देश को नाश करने में लगी हुई है। भाजपा की सरकार यदि 2024 में बनी तो कर्ज में डूबा देश अब पूरी तरह बिक जाएगा। संविधान खत्म हो जाएगा। इसलिए 2024 में बसपा की सरकार बनाने के लिए हमें एकजूट होने की जरूरत है। विशिष्ट अतिथि बसपा केंद्रीय राज्य प्रभारी रामबाबू चिरगईयां व प्रदेश अध्यक्ष राजन मेहता ने कहा कि भाजपा राज तानाशाही व अलोकतांत्रिक साबित हुई है। मौके पर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण कुमार, रामप्रवेश पासवान, गणेश भारती, विक्की राम, मनोज कुमार दास, साधन चक्रवर्ती, सुनील कुमार रविदास, राज कुमार, बाबूलाल दास, निर्मल मुर्मू, रंजीत विधार्थी, डीएन सिंह, श्रीश कुमार, श्यामलाल दास, अशोक कनौजिया राम कुँवर, एम बरुआ, जितेन्द्र दाम, सुभाष बाउरी, विनोद पासवान, शिवपूजन राम, मधुसुधन मंडल, दिलीप दास, संजीत सोरेन, लालमोहन राम, संतोष रबिदास, नीलकमल दास, भोला प्रसाद रोहीत दास, सुभाष राम, अरुण रोहीघ्रत, भोला, अनुपमा कुमारी अर्जुन पासवान, नईमुद्दीन, अनुपमा रबि दास, देवंती देवी, परमेखर सारो देवी संजू, मुक्ति देवी, सावित्री काजल, फूलमती, पार्वती आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *