February 25, 2024

बैठक को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि मसास जिला अध्यक्ष बिंदा पासवान ने कहा कि 3 जनवरी 1991 को धनबाद में साझा शहादत देने वाले रणधीर प्रसाद वर्मा तत्कालीन एसपी एवं आम नागरिक श्यामल चक्रवर्ती द्वारा दी गई शासक- शोषक वर्ग की तत्कालीन सरकार ने अपने वफादार एसपी को अशोक चक्र से नवाजा तथा भरपूर सम्मान दिया।

धनबाद: रविवार 17 दिसंबर को शहीद श्यामल चक्रवर्ती स्मारक समिति एवं मार्क्सवादी युवा मोर्चा की संयुक्त बैठक मासस केंद्रीय कार्यालय टेंपल रोड, पुराना बाजार में संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता मायुमो जिला अध्यक्ष पवन महतो ने की एवं संचालन जिला सचिव राणा चटराज ने किया। बैठक में सर्वसम्मति से 3 जनवरी 2024 को आईआईटी आईएसएम के प्रथम गेट पर शहीद श्यामल चक्रवर्ती की शहादत दिवस पर माल्यार्पण, श्रद्धांजलि सभा एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम करने का निर्णय लिया गया। जिसमें मुख्य अतिथि बगोदर विधायक विनोद सिंह को बनाया गया। बैठक को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि मसास जिला अध्यक्ष बिंदा पासवान ने कहा कि 3 जनवरी 1991 को धनबाद में साझा शहादत देने वाले रणधीर प्रसाद वर्मा तत्कालीन एसपी एवं आम नागरिक श्यामल चक्रवर्ती द्वारा दी गई शासक- शोषक वर्ग की तत्कालीन सरकार ने अपने वफादार एसपी को अशोक चक्र से नवाजा तथा भरपूर सम्मान दिया। मगर आगे बढ़कर शहादत देने वाले श्यामल चक्रवर्ती की पूर्णत: उपेक्षा कर दी गई, परंतु आम नागरिकों के दिलों में राज करने वाले श्यामल चक्रवर्ती एक प्रेरणा स्तंभ के रूप में खड़े हैं। आतंकवादी खालिस्तान बैंक लुटेरों से सरकारी संपत्ति की रक्षा में अतुलनीय शहादत रही है। बैठक में मुख्य रूप से स्मारक समिति का सचिव समीर गोस्वामी, महानगर अध्यक्ष रुस्तम अंसारी, सुभाष चटर्जी, सुभाष सिंह, जयदीप बनर्जी, बादल सरकार, नरेश पासवान, टोनी बनर्जी, शिबू चक्रवर्ती, विश्वजीत राय, राजेश बिरुआ, सुरजीत चंद्रा, मोहम्मद औरंगजेब, भोला ताम्रकार, हसमत खान आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *