Monday, July 15, 2024
HomeधनबादDHANBAD | बिना लहसुन-प्याज के कैचप का धनबाद में हुआ लोकार्पण, अतिथियों...

DHANBAD | बिना लहसुन-प्याज के कैचप का धनबाद में हुआ लोकार्पण, अतिथियों ने कहा क्रांतिकारी कदम

2001 में जो देखा था सपना, उसे अशोक सिंह ने किया पूरा:सांसद पीएन सिंह
काेपल का कैचप धनबाद के लिए खेती में एक क्रांति:बिजय झा
धनबाद के किसानों के लिए हो रहा है उत्कृष्ट काम:डीएन सिंह

DHANBAD | बुधवार को ऑर्गेनिक तरीके से उत्पादित टमाटर से बने बिना लहसुन- प्याज के कैचप का लोकार्पण सांसद पशुपति नाथ सिंह ने किया. जैन और मारवाड़ी समाज तथा सावन और कार्तिक में लोगों की भावना को ध्यान में रखते हुए धनबाद के किंग्स ऑर्गेनिक ने विशेष रुप से यह कैचप तैयार किया है. वैसे, ऑर्गेनिक तरीके से उत्पादित टमाटर से बना यह कैचप देश का पहला प्रयास बन गया है. कैचप की लॉन्चिंग पहली बार पिछले साल झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता सहित महागामा विधायक दीपिका पांडे सिंह और अन्य लोगों ने किया था. उसके बाद से ही यह रफ्तार पकड़ लिया है और धीरे-धीरे अपनी मंजिल की ओर बढ़ रहा है. धनबाद के वरीय कांग्रेस नेता सह समाजसेवी अशोक कुमार सिंह, जिनकी फितरत ही रही है, लीक से हटकर सोचना और काम करना, उन्हीं की यह योजना और परियोजना “ब्रेन चाइल्ड” है. इसे आगे बढ़ाने के लिए जी जान से जुटे हुए है. मकसद सिर्फ कैचप बनाना और बेचना नहीं है, बल्कि इसका असली मकसद है धनबाद के किसानों को आर्थिक रूप से समृद्ध और ताकतवर बनाना है. बुधवार के लॉन्चिंग कार्यक्रम में आप पार्टी के प्रदेश संयोजक डी एन सिंह ने कहा कि धनबाद के किसानों के लिए उत्कृष्ट काम हो रहा है. इसमें धनबाद के सभी लोगों को सहयोग करना चाहिए. गुजराती समाज के अध्यक्ष किरीट चौहान ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के लोगों का ध्यान रखने वाले अशोक कुमार सिंह को हम धन्यवाद देते हैं और उनके इस प्रयास, साहस और हिम्मत की जितनी भी सराहना की जाए, काम होगी. पूर्व बियाडा अध्यक्ष विजय कुमार झा ने कहा कि यह तो धनबाद के लिए खेती में एक क्रांति है. इससे किसानों की आर्थिक स्थिति बढ़ रही है और खेती की तरफ लोगों का झुकाव भी हो रहा है. धनबाद में उत्पादित ₹10 प्रति किलो न्यूनतम समर्थन मूल्य देकर अशोक कुमार सिंह ने किसानों की बेहतरी के लिए क्रांतिकारी कदम उठाया है. जिटा अध्यक्ष राजीव शर्मा ने कहा कि किसानी अभी कठिन काम हो गया है, बावजूद धनबाद में जो क्रांति आई है, वह स्वागत योग्य कदम है. धनबाद की पहचान बदलने का जो प्रयास हो रहा है, उसमे सभी को सहयोग करना चाहिए. विशिष्ट अतिथि धनबाद जिला कोऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष सुरेश प्रसाद चौधरी ने कहा कि बैंक तो बहुतों की मदद करता है, लेकिन किसानों के लिए अशोक कुमार सिंह के प्रस्ताव पर जो मदद किया, उसकी अधिकांश राशि वापस लौट गई है. यह जानकर काफी खुशी और प्रसन्नता हो रही है कि धनबाद के किसान धीरे-धीरे समृद्ध हो रहे है. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांसद पशुपतिनाथ सिंह ने कहा कि 2001 में उन्होंने जो सपना किसानों के लिए देखा था, उसे तो वह पूरा कर नहीं पाए लेकिन आज यह जानकर खुशी हुई कि अशोक कुमार सिंह उनके सपने को पूरा करने की ओर आगे बढ़ गए है. किसानों को ₹10 प्रति किलो समर्थन मूल्य एक बहुत बड़ी बात है. यह काम अशोक सिंह जैसे साहसी लोग ही कर सकते है. धनबाद में जैविक ढंग से उत्पादित टमाटर का कैचप तैयार हो रहा है. इसको मैंने खाया भी है, सही में यह बहुत ही स्वादिष्ट है. उन्होंने अशोक कुमार सिंह की मुक्त कंठ से प्रशंसा की और कहा कि इस प्रोडक्ट की मार्केटिंग के लिए भी सोचे और लोगों तक पहुंचाने की व्यवस्था करे. इसमें जिस तरह के सहयोग की जरूरत होगी, वह व्यक्तिगत तौर पर निश्चित रूप से करेंगे. आगंतुकों का स्वागत किंग्स ऑर्गेनिक के संस्थापक अशोक कुमार सिंह ने की और लोगों से प्यार और स्नेह की कामना की. उन्होंने कहा कि धनबाद को गोली बंदूक से अलग हटकर एक नई पहचान देने की कोशिश की है और इस प्रयास में उन्हें किसानों का पूरा समर्थन मिल रहा है. यह सुखद बात है. कार्यक्रम में मंडल समाज के गौतम मंडल, क्रिकेट से जुड़े रहमान, दीपेश याग्निक, कांग्रेस के उपाध्यक्ष राजेश्वर प्रसाद सिंह, जोगेंद्र सिंह योगी, अनुसूचित जनजाति के अध्यक्ष राजू दास, मंटू दास, गोपाल धारी, बबलू दास, शैलेंद्र सिंह, अमर तिवारी, अशोक गिरी, बिनय सिंह, मिथिलेश सिंह सहित काफी संख्या में लोग मौजूद थे.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments