February 25, 2024

प्रबंधन माइंस एक्ट के नियम कानून को ताक पर रखकर एक साजिश के तहत सरकारी मशीनों व कर्मियों द्वारा आउटसोर्सिंग कंपनी मे काम करवाकर उसे फायदा पहुंचाने का काम कर रही है और विभागीय परियोजना को बंद करने की साजिश रच परियोजनाओं को एमडीओ मोड में दे दी गयी।

झरिया। लोदना क्षेत्र 10 अंतर्गत एकीकृत नाॅर्थ, साउथ जिनागोडा विभागीय परियोजना को बंद करने व आउटसोर्सिंग कंपनी को प्रबंधन द्वारा बढ़ावा देने के विरोध में चल रहे धरना प्रदर्शन के सातवें दिन महिला कर्मियों ने मोर्चा को संभालते हुए अपनी चटानी एकता का परिचय दिया। उन्होंने बताया कि प्रबंधन माइंस एक्ट के नियम कानून को ताक पर रखकर एक साजिश के तहत सरकारी मशीनों व कर्मियों द्वारा आउटसोर्सिंग कंपनी मे काम करवाकर उसे फायदा पहुंचाने का काम कर रही है और विभागीय परियोजना को बंद करने की साजिश रच परियोजनाओं को एमडीओ मोड में दे दी गयी। जिसका विरोध लगातार जारी है जिसके तहत संयुक्त मोर्चा के बैनर तलें महिला कर्मियों के मोर्चा संभालने पर जमस के नेता अनिल सिंह ने कहा की प्रबंधक की गलत नीति का विरोध करने के लिए अपना भरपूर सहयोग दी हैं इसके लिए धन्यवाद के पात्र हैं। धरना पर बैठनेवाली महिलाओं में मनोज कुमार ढारी, कलावती भुईनी, अनिता मोदिन, लक्की देवी, शिला हरिजन ,चारु देवी ,सिमोति देवी, सुंदरी देवी , गीता कुमारी , रेखा देवी, बिजली देवी, जमनी देवी, कारी देवी, मीना कुमारी, चम्पा देवी , छोटकी देवी ,सुभद्रा देवी , लखू कुमारी , कृष्णा देवी ,जमलवा देवी, पुनिया कुमारी, मंजूरा देवी ,शुमित्रा महताईन, अकली महताईन आदि धरने पर उपस्थित हो कर अपनी चट्टानी एकता का बनाने में सहयोग की। धरना को सफल आयोजन के लिए संयुक्त मोर्चा के अनील सिंह , रितेश निषाद ,मनोज कुमार पासवान, संतोष मिश्रा, उज्जवल डें, कन्हाय सिंह, सुजीत मंडल, बंटी सिंह, अश्विनी दे के अलावे सैकडों मजदूरों का समर्थन प्राप्त हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *