February 23, 2024

झरिया कोलफिल्ड बचाओ समिति के उपाध्यक्ष और सिटू राज्य कमेटी के सदस्य शिवबालक पासवान शुक्रवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्वी झरिया महा प्रबंधक का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है

झरिया। झरिया कोलफिल्ड बचाओ समिति के उपाध्यक्ष और सिटू राज्य कमेटी के सदस्य शिवबालक पासवान शुक्रवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्वी झरिया महा प्रबंधक का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। जिसके कारण आज सीटू नेता और बिहार कोलियरी कामगार यूनियन के केंद्रीय सचिव दिलीप चक्रवर्ती के आवास पर सीआईएसएफ तथा अन्य दल बल के साथ उनका पानी, बिजली काटने की हिमायत किया गया है इससे साबित होता है की महाप्रबंधक ने मानसिक संतुलन खो दिया है। इसका मुख्य कारण है कि पिछले दिन पर्यावरण, प्रदूषण के खिलाफ में गोर खूंटी में एक हस्ताक्षर अभियान चलाया गया था और उच्च अधिकारियों को भी प्रदूषण के सवाल पर जानकारी लिखित रूप से दिया गया था। क्योंकि मानवीय जीवन के लिए प्रदूषण एक जान लेवा पूरे झरिया कोलफील्ड के लिए है जो उन्हें व्यक्ति गत आधार पर दिया गया था महा प्रबंधक का दायित्व बनता है। कोयला मजदूर के साथ आम लोग जो उनके क्षेत्र में हैं सबके साथ समान व्यवहार करना दायित्व बनता है लेकिन महाशय चक्रवर्ती अपनी जागीर समझते हैं इसीलिए ऐसी कार्रवाई करने की जो हिमायत की है इसकी मैं घोर निंदा करता हूं और जो प्रबंधन और ट्रेड यूनियन के सुहाद्र वातावरण को बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं।प्रदूषण लगातार झरिया कोल्ड फील्ड में फैल रही है उसके लिए उच्च अधिकारियों को एक टीम बनाकर प्रदूषण से कैसे बचा जाए इस पर एक गहन अध्यन और इसे बचाने के लिए वैज्ञानिक दृष्टिकोण या तकनीक का इस्तेमाल पर उनका ध्यान आकर्षित करना चाहता हूं।आज प्रदूषण या पर्यावरण के सवाल जन अभियान चलाया जा रहा हैं आने वाले दिनों में जब लाखों हजारों लोग इसके खिलाफ में उतरेंगे इसका परिणाम क्या होगा एक चिंता का विषय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *