February 25, 2024

भारत को अंग्रेजों से आजादी दिलाने के लिए महात्मा गांधी ने सत्याग्रह आंदोलन किया था। गुरुवार से उसी महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष  धनबाद को अपराधियों से आजादी दिलाने के लिए सत्याग्रह आंदोलन की शुरुआत की गई है।

धनबाद: भारत को अंग्रेजों से आजादी दिलाने के लिए महात्मा गांधी ने सत्याग्रह आंदोलन किया था। गुरुवार से उसी महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष  धनबाद को अपराधियों से आजादी दिलाने के लिए सत्याग्रह आंदोलन की शुरुआत की गई है।

दरअसल  धनबाद में बढ़ते अपराध और पुलिस की कार्यशैली के खिलाफ आज से समाजसेवी  कृष्णा अग्रवाल ने गांधी सेवा सदन में सत्याग्रह आंदोलन  की शुरुआत की है। उनके साथ आप नेता के अलावे कई समाजसेवी एवं व्यवसाई उनके साथ हैं।  सत्याग्रह आंदोलन से पहले आंदोलनकारियों ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी  की प्रतिमा पर मल्यार्पण कर अपने आंदोलन की शुरुआत की है। हम आपको बताएं कि दो दिन पहले समाजसेवी कृष्णा अग्रवाल प्रेस वार्ता कर अनिश्चितकालीन सत्याग्रह आंदोलन की चेतावनी दी थी।उन्होंने बताया था कि ऐलान किया था कि धनबाद मे अपराधियों का मनोबल काफी बढ़ा गया है, आए दिन  अपराधिक घटनाएं हो रहीजिससे व्यवसायी वर्ग में काफ़ी भय का माहौल है। धनबाद में गिरती विधि व्यवस्था पर लगाम लगाने के लिए सत्याग्रह ही एक मात्र विकल्प हैं। अनिश्चितकालीन  सत्याग्रह आंदोलन में कृष्णा सिंह को समर्थन को मंच पर समर्थन देने धनबाद की कई समाजसेवी मौजूद है। बता दें दो दिन पहले समाजसेवी कृष्णा अग्रवाल प्रेस वार्ता कर अनिश्चितकालीन सत्याग्रह आंदोलन की चेतावनी दी थी। उन्होंने बताया था कि ऐलान किया था कि धनबाद मे अपराधियों का मनोबल काफी बढ़ा गया है, आए दिन अपराधिक घटनाएं हो रही जिससे व्यवसायी वर्ग में काफ़ी भय का माहौल है। धनबाद में गिरती विधि व्यवस्था पर लगाम लगाने के लिए सत्याग्रह ही एक मात्र विकल्प हैं सत्याग्रह आंदोलन के  दौरान ददई दुबे ने भी गांधी सेवा सदन पहुंचकर कृष्ण अग्रवाल को अपना समर्थन दिया।राजीव शर्मा, बैंक मोड़ के  चेंबर के अध्यक्ष प्रमोद गोयल, पार्क मार्केट के अध्यक्ष संजीव अग्रवाल, संतोष विकराल,सन्नी अग्रवाल अजय अग्रवाल दिलीप गोयल एवं श्याम भक्त मंडल के  अन्य सदस्यों ने भी समर्थन दिया साथ ही समर्थन देने में जिला के विभिन्न  चेंबर के दुकानदार  थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *