Friday, June 21, 2024
HomeधनबादDHANBAD | धनबाद:केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन ने की इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के...

DHANBAD | धनबाद:केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन ने की इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के साथ बैठक

DHANBAD | मंगलवार को केमिस्ट एंड डगिस्ट एसोसिएशन ने यूनियन क्लब में एक बैठक इंडियन मेडिकल एसोसिएशन और बिहार झारखण्ड सेल्स रिप्रेजेंटेटिव यूनियन के साथ ऑनलाइन फार्मेसी के विरोध में की गई। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के झारखण्ड के अध्यक्ष डॉ ऐ के सिंह ने कहा की ऑनलाइन फार्मेसी की बिक्री का विरोध हमारी एसोसिएशन भी करती है। उन्होंने धनबाद के नागरिकों से अपील की है की आप लोग दवा ऑनलाइन नहीं मंगवाए क्योंकि ऑनलाइन दवा की गुणवत्ता जांच नहीं की जा सकती है। इस मुद्दे पर हमारी एसोसिएशन धनबाद कैमिस्ट ऐड ड्गिस्ट एसोसिएशन के साथ है।आई एम ए धनबाद के अध्यक्ष डॉ मेजर चन्दन ने कहा की ऑनलाइन एक गंभीर मुद्दा है जिसका विरोध हमारा आई एम ए धनबाद भी करेगा ।आई एम ए के कोषाध्यक्ष डॉ राकेश इंदर सिंह ने कहा की केमिस्ट एसोसिएशन ने ऑनलाइन के मुद्दे पर जो कदम उठाया है वो बहुत अच्छी पहल है। बी एस एस आर यूनियन बिहार झारखंड के अध्यक्ष असीम हलदर ने बलाया की ऑनलाइन फार्मेसी द्वारा बेचीं जा रही दवा फेक है की नहीं इसकी जांच कहा होगी? बी एल एस आर यूनियन धनबाद के अध्यक्ष संदीप आईज ने कहा की डॉक्टर द्वारा मरीज को जो प्रिसक्रिप्शन दिया जाता है उसका हेल्‍थ डाटा चोरी होने का डर है। केमिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष ललित अग्रवाल मे बताया की दवा की ऑनलाइन फार्मेसी से दवाइपों पर 30 से 40 परसेंट की छूट गैर कानूनी है। सचिव धीरज दास ने कहा की ऑनलाइन बिक्री कानूनन कहा तक सही है ओर इसकी जांच कहा होगी? दवा की गुणवत्ता पर बहुत बड़ा सवाल खड़ा होता है। इन सभी विषयों पर ड्रग कंटोलर जनरल ऑफ़ इंडिया ने ऑनलाइन कार्मेसी वाली 20 कंपनियों को शोकॉस नोटिस जारी किया है। ललित अग्रवाल ने बताया की पिछले दिनों हमारी आल इंडिया केमिस्ट एंड डगिस्ट एसोसिएशन के महासचिव राजीव सिंघल कुल 626 जिलों मे कार्यशील एसोसिएशन से 460 ज्ञापनों को भारत सरकार के वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पियूष गोयल को एक मेमोरंडम दिया गया है की हमारे संगठन ने आपको पहले ही ऑनलाइन फार्मेसियों ओर ब्राडेड खुदरा स्टोरों द्वारा किए जा रहे कदाचार के बारे में फिर से तथ्य प्रस्तुत किए हैं। जिसके तहत वे ऐसे WA दवा उत्पादों पर भारी छूट देते हैं जो जो सामान्य भौतिक स्टोरों द्वारा संभव नहीं है। ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए छूट देना इन ई-फार्मली और ब्रांडेड खुदरा दुकानों का चलन बन गया है।इनके द्वारा दी जाने वाली भारी छूट का उद्देश्य ग्राहकों को लाभ पहुंचाना नहीं है बल्कि लंबे समय में दवा व्यवसाय की प्रतिस्पर्धा को खत्म करने के लिए छोटे फार्मेसी स्टोरों को बाहर करना है।ऑनलाइन फार्मेसियों ओर ब्रांडेड खुदरा स्टोरो द्वारा दी जाने वाली छूट कदापि संभव नहीं होगी।यदि प्रिसक्रिप्त दवाओं और अन्य दवाओं को उसी कीमत पर बेचा जाता है। जिस पर वे कि एक सामान्य थोक विक्रेता/स्टॉकिस्ट का एक खुदरा विक्रेता द्वारा प्राप्त की जाती हैं। ऑनलाइन फ़ार्मेशी ओर ब्रांडेड खुदरा स्टोर लुटेरी ( प्रिडिट्री) कीमतों में लिप्त होकर दवा बाज़ार का दुरुपयोग कर रहे हैं।हमारा अनुरोध है कि ऐसी प्रथाओं को को रोका जाना चाहिए क्योंकि एक सामान्य दवा दुकान के मालिक को कठिनाई और पीड़ा का सामना करना पड़ रहा है। फार्मेली अधिनियम और इसके तहत बनाए गए विनियमों के मद्देनजर एक सामान्य दवा की दुकान विज्ञापन भी नहीं दे सकती है। हालांकि ग्राहकों को आकर्षित करने के में कई दवा दुकानों ने मजबूरन नियमों का उल्लंघन भी करना शुरू कर दिया है।दवा की टुकानों द्वारा मजबूरीवश अत्यधिक छूट देने से ये दवा टुकानें बंद हो सकती हैं, और इससे ग्रामीण क्षेत्रों में दवाओं की उपलब्धता भी प्रभावित हो खकरी है। इन सभी ब्रांडेड रिटेल चेन स्टोर्स व ऑनलाइन फार्मेसियों द्वारा दी जा रही छुट/प्रोत्साहन के कुछ उदाहरण हमारे राष्ट्रीप संगठन एआईओसीडी हारा आपको पहले ही बताए जा चुके हैं।हम आपसे आग्रहपूर्वक अनुरोध करते हैं कि देश की बड़ी संख्या में दवा दुकानों के सीधे तोर पर अस्तित्व से जुड़ें हुए इस ज्वलंत मुद्दे पर तुरंत ध्यान देकर आवश्यक कार्यवाही करने करने की कृपा करें । झारखण्ड केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष कृष्णा प्रधान और कोषाध्यक्ष उमेश श्रीवास्तव के भी प्रयास से पुरे झारखण्ड एसोसिएशन के 24 जिलों का भी मेमोरंडम भारत सरकार के वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पियूष गोयल को भेजा गया है बैठक में आई एम ए के झारखण्ड के अध्यक्ष डा.ए. के. सिंह आईएमए धनबाद के अध्यक्ष डॉ. ए. के. सिह आईएमए धनबाद के अध्यक्ष डॉ. मेजर चंदन कोषाध्यक्ष डॉ. राकेश इटर सिंह बी एस एस आर यूनियन झारखण्ड बिहार के अध्यक्ष असीम हलदर, बी एस एस आर यूनियन धनबाद के अध्यक्ष संदीप आईच, कुंदन मुखर्जी,केमिस्ट एसासिएशन के अध्यक्ष ललित अग्रवाल, सचिव धीरज दास, कोषाध्यक्ष विकास अग्रवाल,देवन तिवारी,अजय सिन्हा, संजय श्रीवास्तव, सुनील पोद्दार उपस्थित ये।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments