Wednesday, May 29, 2024
HomeधनबादDHANBAD | केंदुआ बाजार में लगी भीषण में 4 साल की बच्ची...

DHANBAD | केंदुआ बाजार में लगी भीषण में 4 साल की बच्ची समेत एक ही परिवार के 3 लोगों की जलकर मौत

DHANBAD | धनबाद में आग ने भीषण तबाही मचाई है. इस आग में चार साल की बच्ची समेत तीन लोगों की मौत हो गई है. जबकि तीन लोग गंभीर रूप से झुलस गए. केंदुआडीह थाना क्षेत्र के केंदुआ बाजार स्थित जेवर पट्टी के एसके जनरल श्रृंगार स्टोर में अचानक भीषण आग लग गई. आग की उठती लपटों पर जैसे ही लोगों की नजर पड़ी वहां अफरा तफरी मच गई. देखते ही देखते हजारों की संख्या में स्थानीय लोग जुट गए और आग बुझाने की कोशिश करने लगे. जिस श्रृंगार स्टोर के आग लगी थी उसके ठीक ऊपर मकान में एक परिवार के छह सदस्य मौजूद थे. आग बुझाने के साथ ही लोग मकान में मौजूद परिवार के सदस्यों की जान बचाने की जद्दोजहद में जुट गए. इधर कुछ लोगों ने हादसे की सूचना अग्निशमन विभाग को दी. जिसके बाद दमकल की दो बड़ी गाड़ियां और एक छोटी गाड़ी मौके पर पहुंच गई. आग इतनी भीषण थी कि कुछ ही देर में आग ने श्रृंगार स्टोर से सटे एक इलेक्ट्रॉनिक दुकान को भी अपनी चपेट में ले लिया जिससे आग और गंभीर हो गई. दमकल की गाड़ी के पहुंचने से पहले स्थानीय लोगों ने दुकान के ऊपर मकान में रह रहे लोगों की जान बचाने की कोशिश की. भीषण आग के कारण मकान में मौजूद परिवार के सदस्यों की स्थिति बिगड़ते जा रही थी. लोगों ने सड़क से ऊपर बालकनी में सीढ़ी लगाई और बड़ी मुश्किल से घर के अंदर दाखिल हुए. इस दौरान तीन लोगों को निकालने में लोग सफल रहे. इसके बाद फायर ब्रिगेड की टीम दो बड़ी और एक छोटी वाहन लेकर पहुंची. जिसके बाद कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया. रेस्क्यू के दौरान फायर ब्रिगेड की टीम ने तीन अन्य को निकालने में सफल रहे. लोगों ने रेस्क्यू कर मकान से दुकानदार सुभाष की 30 वर्षीय बहन प्रियंका गुप्ता, भाई सुमित गुप्ता और डेढ़ साल के बेटे शिवांश को बाहर निकाला. हालांकि उनकी हालत काफी गंभीर थी. वहीं फायर ब्रिगेड की टीम ने दुकान के मालिक सुभाष गुप्ता की 65 वर्षीय मां उमा देवी उसकी पत्नी सुमन गुप्ता और चार साल की बेटी मौली को रेस्क्यू कर बाहर निकाला. इनमें सभी की हालत बेहद गंभीर थी. लोगों ने उन्हें तुरंत सदर अस्पताल में भर्ती करवाया. जहां इलाज के दौरान प्रियंका, सुभाष की मां उमा देवी और चार साल की बेटी मौली ने दम तोड़ दिया. वहीं, पत्नी सुमन गुप्ता, भाई सुमित गुप्ता और डेढ़ साल के शिवांश का इलाज चल रहा है. हादसे के दौरान सुभाष गुप्ता और उसके पिता अशोक गुप्ता घर से बाहर थे, जिस कारण दोनों की जान बच गई.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments