Friday, June 21, 2024
HomeधनबादDHANBAD | विनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय के गेट के समक्ष विभिन्न...

DHANBAD | विनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय के गेट के समक्ष विभिन्न मांगों को लेकर आजसू छात्र संघ ने दिया धरना

DHANBAD | विनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय के गेट के पास विभिन्न मांगों को लेकर आजसू छात्र संघ के द्वारा एक दिवसीय धरना दिया गया। इसको लेकर जब हमने आजसू छात्र संघ बीबीएमकेयू इकाई के अध्यक्ष विशाल महतो से बात की तो उसने बताया की आजसू पार्टी के बैनर तले चरणबद्ध तरीके से 7 सूत्री मांगो को लेकर धरना दिए है जिसमे मुख्य रूप से जो मांग है उसमे ज्वालिंत मुद्दा है की झारखंड सरकार के द्वारा शिक्षक बहाली किया जा रह है उसके लिए 2 जेनरिक पेपर की मांग किया गया है लेकिन विश्वविद्यालय के द्वारा इसे नही पढ़ाया गया वही विश्वविद्यालय के द्वारा अस्वशं दिया गया था की विशेष परीक्षा लिया जाएगा वही विनोवा भावे विश्वविद्यालय में इसको लेकर ऑनलाइन फॉर्म भरा जा रहा है और रांची विश्वविद्यालय में एग्जाम तक हो गाय है पर बीबीएमकेयू के द्वारा कोई आधिकारिक सूचना जारी नहीं किया गया है वही विनोव भावे विश्वविद्यालय का कहना है की 2015 से 2018 का जो सत्र है उसमे धनबाद जिला वा बोकारो जिला के छात्रों का फॉर्म नहीं भरेंगे साथ ही इस से पहले सत्र के बचे जीना एग्जाम चाहे विनौवा भावे विश्वविद्यालय से उतरीन हो या बीबीएमकेयू से उत्तरीन हो धनबाद वा बोकारो जिला के छात्र को फॉर्म भरने नहीं दिया जाएगा इसके बौजुद भी बीबीएमकेयू के द्वारा कोई अधिसूचना जारी नही किया गया है। राज्य सरकार के द्वारा वेक्सेंसी आ गया है लेकिन यूनिवर्सिटी से एग्जाम को लेकर कोई अधिसूचना नहीं आया है ऐसे में छात्र परेशान है। विश्वविद्यालय इसके लिए अधिसूचना जारी कर निर्णय ले की कोन सा विश्विद्यालय जेनरिक पेपर का एग्जाम लेंगे वही पूर्व में हुवे सेमेस्टर 1 के एग्जाम में 70% से ज्यादा छात्रा फेल हो गए थे जिसके बाद यूनिवर्सिटी के द्वारा ₹350 पर स्टूडेंट वोकेशनल पेपर वा शिक्षiक बहाली के नाम पर लिया गया था लेकिन महाविद्यालय में एक भी शिक्षक बहल नहीं किया गाय है और बिना पढ़ाए छात्रों को एग्जाम के अधिकार में धकेल दिया गया जिसका परिणाम स्वरूप 30000 छात्र फेल हो गए। वही ₹350 कर के 30000 छात्रों से जो पैसा लिए गया और उसका घोटाला किया गया उसका हिसाब विश्वविद्यालय दे साथ इसका जांच हो। बीएड के क्वेश्चन पेपर में आए 5 एमसीक्यू क्वेश्चन को हमारे द्वारा विभिन्न विभिन्न महाविद्यालयों में भेजा गाय और उनसे जवाब लिया गाय जिसकी जांच करने पर पता चला की सभी उत्तर एक दूसरे से अलग है जिस से यह साबित होता है की क्वेश्चन पेपर कोई सही तरीके से नहीं सेट किया गाय था या फिर हम दूसरे शिक्षा प्रणाली में धकेला जा रहा है वही बीएस सेमेस्टर 2 का मूल्यांकन कार्य की उच्च स्तरीय जांच किया जाए की मांग करते है इसके अलावा कोयलांचल के क्षेत्रीय भाषा खोरठा,संथाली और कुरमाली भाषा की मांग लगातार करते आए है जिसके लिए एक आवाज नही किया गया है वही उड़िया भाषा को
यह थोपने का कार्य कर रही है जिसका हमारे द्वारा पुरजोर विरोध किया जा रहा है एक सूचना मिला ही की हमारे द्वारा किए जा रहे प्रयास के बाद विश्वविद्यालय में किए जा रहे उड़िया शिक्षक की बहाली पर राजभवन के द्वारा रोक लग दिया गया है। साथ ही विशाल महतो ने विश्वविद्यालय आरोप लगाते हुवे कहा की विश्वविद्यालय में सिर्फ और सिर्फ चोरी, दलाली,और भ्रष्टाचार किया जा रहा और छात्रों के मुद्दो से कोई मतलब नही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments