Wednesday, June 19, 2024
HomeधनबादDHANBAD | धनबाद में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय मोटिवेशनल स्पीकर व सक्सेस गुरू...

DHANBAD | धनबाद में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय मोटिवेशनल स्पीकर व सक्सेस गुरू एके मिश्रा का मेगा सेमिनार 08 अक्टूबर को

DHANBAD | आगामी 08 अक्टूबर को न्यु टाउन हॉल, धनबाद गोल्फ ग्राउंड के समीप चाणक्य आईएएस एकेडमी की ओर से सिविल सेवा की तैयारी और सफलता पाने को लेकर नि: शुल्क मेगा सेमिनार का आयोजन किया जाएगा। बता दें कि सेमिनार की शुरुआत सुबह 10:30 बजे से होगी। सेमिनार में अंतर्राष्ट्रीय मोटिवेशनल स्पीकर व सक्सेस गुरू एके मिश्रा शिरकत करेंगे, जो अभ्यर्थियों का मार्गदर्शन करेंगे। यह मेगा सेमिनार यूपीएससी, जेपीएससी व बीपीएससी के अतिरिक्त विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के साथ साथ स्कूल व कॉलेज में पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों के लिए उपयोगी साबित होगा। सक्सेस गुरू के सफलता के मूल मंत्र ह्यूमन सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट मॉडल पर आधारित आर्ट ऑफ सक्सेस के बारे में भी सक्सेस गुरू एके मिश्रा सेमिनार के दौरान विस्तार से अभ्यर्थियों को बताएंगे, जो उनके सफलता में मील का पत्थर साबित होगा। उक्त जानकारी चाणक्य आईएएस एकेडमी के वाइस प्रेसिडेंट विनय मिश्रा ने दी। उन्होंने बताया कि सफलता के लिए प्लानिंग आवश्यक है। योजनाबद्ध तरीके से की गई तैयारी सफलता को आसान बना देती है, लेकिन योजना कैसे बनाई जाए, किन किन बातों का ख्याल रखा जाए, ऐसी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां सक्सेस गुरू एके मिश्रा सेमिनार के दौरान अभ्यर्थियों को देंगे। उन्होंने बताया कि सफलता के लिए उचित मार्गदर्शन में तैयारी करना आवश्यक है। इस सेमिनार में बड़ी संख्या में युवाओं और अभिभावकों के शामिल होने की संभावना है। इसलिए सेमिनार में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों व उनके अभिभावकों को कोई असुविधा न हो, इसके लिए नि: शुल्क रजिस्ट्रेशन की सुविधा संस्थान की ओर से प्रदान की गई है। सेमिनार में शामिल होने के लिए 7303763219 पर संपर्क या नि:शुल्क पास प्राप्त किया जा सकता है।

कौन हैं सक्सेस गुरू एके मिश्रा
सक्सेस गुरू एके मिश्रा एक अंतर्राष्ट्रीय मोटिवेशनल स्पीकर हैं और देश के अतिरिक्त कई अन्य देशों में बतौर मोटिवेशनल स्पीकर जा चुके हैं‌। कुछ बड़ा करने की चाह लिए 1993 में दिल्ली में एके मिश्रा ने चाणक्य आईएएस एकेडमी की स्थापना की। इस सकारात्मक कार्य में उनके छोटे भाई विनय मिश्रा, जो आज संस्थान के उपाध्यक्ष हैं, उन्होंने भरपूर साथ दिया। एके मिश्रा की सकारात्मक सोंच रंग लाई और संस्थान के बेहतर प्रदर्शन ने उन्हें एके मिश्रा से सक्सेस गुरू एके मिश्रा बना दिया। इतना ही नहीं अब श्री मिश्रा अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मोटीवेशनल स्पीकर हैं, जिसे सुनने की चाह दुनिया भर के युवाओं को हमेशा रहती है। फिलहाल चाणक्य आईएएस एकेडमी की देश भर में 25 शाखाएं हैं। सक्सेस गुरू एके मिश्रा के बेहतर मार्गदर्शन का ही परिणाम है कि इन 30 वर्षों के दौरान चाणक्य आईएएस एकेडमी से 5000 से भी अधिक यूपीएससी सिविल सर्विसेज में अभ्यर्थी सफल होकर देश सेवा में अहम योगदान दे रहे हैं। साथ ही देश के विभिन्न राज्यों में पीसीएस में सफलता का प्रतिशत काफी बेहतर है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments