February 22, 2024

जन-जन की समस्या दूर करने के लिए बनाया जनशक्ति दल

KATRAS | कभी असंगठित मजदूरों की लड़ाई में प्रबंधन के दांत खट्टे कर चुके सूरज महतो एकबार फिरसे बाघमारा के राजनीतिक पटल पर लौट आए हैं। वही सूरज महतो जिन्होंने झारखंड मुक्ति मोर्चा से टिकट पाकर 2014 में पहली दफा में ही करीब 9 हजार वोट लाकर बाघमारा की जनता के मन-मस्ति‍क पर अमिट छाप छोड़ चुके थे। अलग बात थी कि मोदी जी की लहर में उन्होंने विधानसभा का चुनावी वैतरणी पार नहीं कर सके, लेकिन इतना जरूर था कि बाघमारा विधानसभा क्षेत्र में उन्होंने एक लंबी लकीर खींच दी थी। कहते हैं न कुछ करने की जज्बा मन में रखने वाले कभी हार नहीं मानते। लोगों की दिलों पर राज करने वाले सूरज महतो एकबार फिर से लौट आए हैं। उन्होंने बाघमारा से भय, भूख, भ्रष्टाचार समेत अन्य बुराइयों को समाप्त करने के लिए जनशक्ति दल नामक सामाजिक संगठन का मंगलवार को लोकार्पण किया। संस्था के लोकार्पण के मौके पर कांको मोड़ स्थित अपने कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में सूरज महतो ने संगठन के उद्देश्यों के बारे में पत्रकारों को बताया। इस दौरान उन्होंने यह भी खुलासा कर दिया कि बाघमारा की जनता ने चाहा तो चुनाव लडने से भी पीछे नहीं हटेंगे। आत्मविश्वास से भरे श्री महतो ने कहा कि अगर चुनाव लड़ा तो इसबार परिणाम रिकॉर्ड तोड होगा। पत्रकारों को जवाब देते हुए श्री महतो ने कहा कि इतने दिनों तक वे चुप नहीं थे। वे लगातार सामाजिक हितों के लिए संघर्षरत थे। किस पार्टी से चुनाव लड़ेंगे, इस सवाल पर संस्था के अध्यक्ष श्री महतो ने कहा कि यह समय और उनके संगठन के सदस्य तय करेंगे। श्री महतो ने कहा कि झारखंड के विकास में योगदान ने वाले सभी झारखंडी हैं। उन्होंने कहा कि सामाजिक ताना-बाना को तोड़ने वाले विचारधारा का वे विरोध करेंगे। श्री महतो ने कहा कि ‘जनशक्ति दल’ को बाघमारा विधानसभा तक ही नही ंबल्कि वे इसे राष्ट्रीय स्तर तक ले जायेंगे। श्री महतो ने कहा कि उनके संगठन का मुख्य उद्देश्य नागरिकों को सुरक्षा प्रदान करना, समाज के सभी वर्गों में भाईचारा स्थापित करना, बाघमारा से भय-भूख भ्रष्टाचार और बेरोजगारी को दूर करना, समाज के प्रत्येक नागरिक को हक और अधिकार दिलाना, समाज से भेदभाव, बाहरी भीतरी, जातपात, ऊंचनीच जैसे विचारधारा का संगठन विरोध करेगा। प्रेसवार्ता में सूरज महतो के अलावे बलराम महतो, महादेव दास, बबन सूत्रधर, सुबोध महतो, रणधीर महतो, दुलाल दास, सुनील रजक, सोनू चौधरी, सोनू सिंह, दीपेश महतो, पंकज महतो, कैलाश हजारी, सुरेश महतो, मो सुल्तान, मो अबुल, मो फिरोज, मो शेर अली खान, अभिजीत कुमार, अजीत, रविंद्र रजवार, निर्मल सिंह आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *