Friday, June 21, 2024
HomeधनबादDHANBAD : राष्ट्रीय प्रेस दिवस पर "आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के युग में मीडिया"...

DHANBAD : राष्ट्रीय प्रेस दिवस पर “आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के युग में मीडिया” पर सेमिनार का आयोजन

DHANBAD : उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्री वरुण रंजन के निर्देश पर राष्ट्रीय प्रेस दिवस के अवसर पर जिला जनसंपर्क कार्यालय द्वारा मीडियाकर्मियों के लिए धनबाद क्लब में “आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के युग में मीडिया” विषय पर सेमिनार का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि सह उपायुक्त श्री वरुण रंजन ने सभी मीडिया कर्मियों को राष्ट्रीय प्रेस दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि लोकतंत्र को सुदृढ़ बनाने में और विचारों की क्रांति में मीडिया का अतुल्य योगदान रहा है।

उपायुक्त ने कहा कि आज से एक शतक पूर्व मीडिया एक संस्थान तक सीमित था, परंतु आज मीडिया के स्वरूप में विस्तार और उसमें बड़ा बदलाव हुआ है। एक पाठक के रूप में हर व्यक्ति के हाथों तक मीडिया पहुंच चुका है। पहले सीमित समय पर लोगों को समाचार उपलब्ध होते थे। संचार क्रांति और इंटरनेट ने मीडिया को सशक्त बनाया है। अब 24 घंटे सातों दिन विभिन्न माध्यमों से मीडिया विश्व के कोने-कोने तक लोगों की पहुंच में है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर प्रकाश डालते हुए उपायुक्त ने कहा कि यह आने वाली पीढ़ी की टेक्नोलॉजी है। मीडिया कर्मियों को इस परिवर्तन के साथ अपने को ढालना चाहिए। इससे आने वाले समय में क्या ट्रेंड है उसकी पहचान करने में सहायता मिलेगी।

उन्होंने कहा कि हर नई तकनीक का अच्छा और बुरा, दोनों पहलु होता है। वहीं आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मीडिया कर्मियों को रोजमर्रा के कार्य में सहायता प्रदान करेगा। यह आर्टिकल लिखने, न्यूज़ की प्रस्तुति अच्छे से करने, पत्रकारिता को बेहतर बनाने, ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंच बनाने में सहायक सिद्ध होगा। मीडिया कर्मियों को बदलते समय के साथ अपने को बदलना है। समय के साथ उनके पाठक का स्वरूप भी बदल जाएगा।

उन्होंने कहा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का असर इंटरनेट और एंड्राइड मोबाइल से बड़ा होगा। यह एक नई इकोसिस्टम तैयार करेगा। इसको आप अपने लिए कैसे इस्तेमाल करते हैं यह आप पर निर्भर है।

उपायुक्त ने कहा कि देश के विकास, जनता का कल्याण, समाज को बेहतर बनाने, सरकार या प्रशासन की खामियों की आलोचना मीडिया अपनी विश्वसनीयता बरकरार रखते हुए करें।

सेमिनार को संबोधित करते हुए आईआईटी आईएसएम के सेवानिवृत प्रोफेसर डॉक्टर प्रमोद पाठक ने कहा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के युग में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण होनी चाहिए। किसी विषय का कुप्रचार करने में इसकी बड़ी भूमिका रही है। इसलिए मीडिया को आगे बढ़कर अपनी भूमिका निभानी होगी और सत्य और असत्य को पहचानना होगा।

उन्होंने कहा कि मीडिया को गुड एआई एवं बेड एआई में फर्क करना होगा। कोई भी फैसला अपने विवेक से लेना होगा। आम लोगों तक मीडिया सच्चाई लाने का प्रयास करें और ह्यूमन इंटेलिजेंस को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से ऊपर रखे।

सेमिनार को बिहार ऑब्जर्वर के संपादक श्री गणेश मिश्रा ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के कारण बहुत सारी घटनाओं को तोड़ मरोड़ कर और भ्रामक रूप से प्रकाशित व प्रसारित किया जा रहा है। जिसके कारण समाज पर दुष्प्रभाव पड़ता है। उन्होंने मीडिया कर्मियों को समाचार की पुष्टि करने के बाद ही प्रकाशित व प्रसारित करने का आह्वान किया।

प्रेस क्लब धनबाद के अध्यक्ष श्री अशोक कुमार ने राष्ट्रीय प्रेस दिवस पर सभी मीडिया कर्मियों को शुभकामनाएं दी और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को सोच समझकर उपयोग करने की अपील की।

कार्यक्रम के प्रारंभ में जिला जनसंपर्क पदाधिकारी श्रीमती उर्वशी पांडेय ने सभी मीडिया कर्मियों का स्वागत किया। वहीं समारोह का संचालन श्री घनश्याम दुबे ने किया।

समारोह में उपायुक्त श्री वरुण रंजन, आईआईटी आईएसएम के सेवानिवृत प्रोफेसर डॉक्टर प्रमोद पाठक, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी श्रीमती उर्वशी पांडेय, संपादक श्री गणेश मिश्रा, प्रेस क्लब धनबाद के अध्यक्ष श्री अशोक कुमार के अलावा जिला जनसंपर्क कार्यालय के कर्मी तथा बड़ी संख्या में प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रतिनिधि मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments